सीएम गहलोत के बड़े भाई पर ईडी का छापा, बौखलाई कांग्रेस

CM Ashok Gehlot Told Media Responsible

राजस्थान की सियासी ​खींचतान के बीच प्रवर्तन निदेशालय ईडी (ED Raid) ने पहली बार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के परिवार पर शिकंजा कसा। फर्टिलाइजर स्कैम मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बड़े भाई (Gehlot Elder Brother) अग्रसेन गहलोत (Agrasen Gehlot) के घर और फार्म हाउस पर छापा डाला। बताया जा रहा है कि पश्चिम बंगाल,गुजरात और दिल्ली के कई स्थानों पर उर्वरक घोटाले को लेकर ये कार्रवाई की जा रही है। ईडी टीम पीपीई किट पहनकर पूरी कार्रवाई कर रही है।

 

 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बड़े भाई अग्रसेन गहलोत (CM Ashok Gehlot) का फर्टिलाइजर का कारोबार है और जोधपुर में इससे जुड़ी दुकानें और अन्य प्रतिष्ठान हैं। टीम (ED Raid) ने कई दस्तावेज जब्त किए हैं,जिनकी जांच की जा रही है। उर्वरक घोटाले में अग्रसेन गहलोत के अलावा पूर्व सांसद बद्री राम जाखड़ के आवास पर भी छापेमारी की जा रही है। अग्रसेन गहलोत (Agrasen Gehlot) अनुपम कृषि कंपनी के मालिक हैं। इस कंपनी पर सीमा शुल्क विभाग ने मुकदमा चलाया था,जिसके बाद उनकी कंपनी पर सात करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया गया।

 

 

इससे पहले राजस्थान में आयकर विभाग और ईडी (ED Raid) ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के दो करीबी लोगों के ठिकानों पर छापे डाले थे। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि डराने और धमकाने के लिए ईडी के छापे मारे जा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस विधायक कृष्णा पूनियां के घर भी सीबीआई भेज दी गई।

 

 

 

ये भी पढ़े- दबंगहिला पुलिस अधिकारी जिसने मुख्यमंत्री पर लगाए संगीन आरोप

ईडी और आयकर विभाग से नहीं डरेंगे विधायक

राष्ट्रीय प्रवक्ता सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेस कर कहा कि 21 जुलाई को मुख्यमंत्री (CM Ashok Gehlot) के ओएसडी को सीबीआई ने बुलाया था। आज अग्रसेन गहलोत (Agrasen Gehlot) को निशाना बनाया गया है, जो ना तो राजनीति में हैं और ना ही उनका इससे कोई सरोकार है। मोदी राज में रेड राज पैदा किया हुआ है। इससे दूसरे राज्यों में लोग डर गए होंगे लेकिन गहलोत और उनके विधायक इससे डरने वाले नहीं है। ऐसी कार्रवाई से सरकार अस्थिर होने वाली नहीं है।

 

 

ईडी की कार्रवाई के समय को लेकर कांग्रेस ने उठाए सवाल

कांग्रेस का आरोप है कि सीएम गहलोत के बड़े भाई (Gehlot Elder Brother Agrasen Gehlot) के खिलाफ ये कार्रवाई ऐसे समय में की जा रही है जब राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी कांग्रेस के 19 विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने के नोटिस मामले में सुप्रीम कोर्ट जाने का निर्णय लिया है। हालांकि ये जांच पहले से चल रही थी। राजस्थान के साथ ही ईडी (ED Raid) कई अन्य स्थानों पर भी उर्वरक घोटाले को लेकर एक साथ कार्रवाई कर रही है।

देश-दुनिया की खबरों के लिए यहां Click करें। Click here …

 

Leave a Comment