एसपी सहित पांच पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई का आदेश

gehlot pilot political battle

नाबालिग से बलात्कार के मामले में पुलिस जांच में खामियों पर न्यायाधीश ने तीन आरोपियों को दोषमुक्त करार दिया लेकिन कोर्ट (Court ordered ) ने दो अनुसंधान अधिकारियों डीएसपी, थानाप्रभारी और एसआई के साथ ही एसपी (Banswara SP) पर कार्रवाई के आदेश (Action Against)  दिए हैं।

 

 

बांसवाड़ा पॉक्सो न्यायालय के न्यायाधीश मोहम्मद आरिफ ने अपने फैसले (court ordered) में ये आदेश दिए। कोर्ट ने शनिवार को सुनाए अपने निर्णय में कहा कि एसपी ने​ विवेक का इस्तेमाल किया होता तो गैर कानूनी गिरफ्तारियां नहीं होती। आरोपियों को लंबे समय तक विचारण नहीं भुगतना पड़ता।

एक करोड़ की रिश्वत मांगने वाले कांस्टेबल को एसीबी ने पहली किस्त लेते किया गिरफ्तार

 

 

पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई के आदेश

न्यायालय ने पांचों पुलिस अधिकारियों (action sp) के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के लिए फैसले की प्रति (court ordered) पुलिस महानिदेशक को भेजने के आदेश दिए। साथ ही कोर्ट ने एक महीने में कार्रवाई कर अवगत कराने को भी कहा है। कोर्ट ने तत्कालीन डीसीपी गजेंद्र सिंह जोधा, विक्रम सिंह व सदर थाना प्रभारी सुरेन्द्र सिंह और एक एसआई के साथ एसपी (action sp) पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

 

 

इस मामले में पुलिस जांच में पाई खामी

बांसवाड़ा एसपी को तीन जून 2014 के परिवाद में पीड़िता ने एसपी को बताया कि एक जून को वह नाबालिग भांजी के साथ घर पर थी। मोटरसाइकिलों पर तीन नामजद आरोपियों सहित 25 से 30 लोग आए और उन्होंने तोड़फोड़ की। इस दौरान आरोपियों ने भांजी के साथ दुष्कर्म किया।

देश-दुनिया की खबरों के लिए यहां Click करें। Click here …

 

 

Leave a Comment